Sat, 17 Sep 2022

क्रिकेटर ना बनते तो ये 4 दिग्गज होते गोल्ड मेडलिस्ट ओलंपियन

KKL

क्रिकेट जगत के बहुत से खिलाड़ी ऐसे रहे हैं, जिन्हें दूसरे देश खेलों में भी काफी दिलचस्पी थी और उन्होंने अन्य खेलों में महारत भी हासिल कर रखी थी. हम आपको कुछ ऐसे ही दिग्गज क्रिकेटरों के बारे में बता रहे हैं, जो अगर क्रिकेट ना खेलते तो शायद ओलंपिक खेलों में अपने देश के लिए गोल्ड मेडल जीत कर लाते.

एबी डिविलियर्स 

दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज एबी डिविलियर्स को क्रिकेट के अलावा फुटबॉल, टेनिस, बैडमिंटन, स्विमिंग, रग्बी जैसे खेलों में दिलचस्पी रही है. उन्होंने अपने देश के लिए नेशनल स्तर की प्रतियोगिताओं में भी हिस्सा लिया. केविन एंडरसन ने यह बात स्वीकार की थी कि एबी डिविलियर्स टेनिस के बेहतरीन खिलाड़ी रहे. अगर वह क्रिकेटर ना होते तो टेनिस स्टार होते.

ब्रैंडन मैकुलम 

ब्रैंडन मैकुलम न्यूजीलैंड के धाकड़ बल्लेबाज हैं जिन्होंने फील्डिंग एंगल को पूरी तरह से बदल दिया. मैकुलम को रग्बी खेलने में काफी दिलचस्पी थी. उन्होंने न्यूजीलैंड की ऑल ब्लैक रग्बी में अपना दम भी दिखाया था. उन्होंने तीन बार सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी डैन कार्टर को भी पछाड़ा था और इससे आप उनकी काबिलियत का पता कर सकते हैं.

महेंद्र सिंह धोनी 

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान धोनी क्रिकेटर के रूप में तो खूब सफल रहे. लेकिन क्या आप जानते हैं कि उन्हें फुटबॉल खेलना भी बहुत पसंद है. धोनी की फुटबॉल में आज भी बहुत दिलचस्पी है और आज भी वह फुटबॉल खेलना पसंद करते हैं. इतना ही नहीं धोनी एक बेहतरीन स्प्रिंटर भी बन सकते थे.

सौरव गांगुली 

सौरव गांगुली भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रहे हैं और वह बीसीसीआई के मौजूदा अध्यक्ष भी हैं. क्या आप जानते हैं कि सौरव गांगुली को फुटबॉल से बहुत ज्यादा प्यार रहा है. सौरव गांगुली अगर क्रिकेटर ना बनते तो शायद फुटबॉलर बन जाते और देश का नाम रोशन करते.

Advertisement

Advertisement

Advertisement